--> हिंदी दलित आत्मकथाओं की सूची | dalit aatmkathayen - हिंदी सारंग
Home दलित आत्मकथाएं / वस्तुनिष्ठ इतिहास / dalit aatmkathayen

हिंदी दलित आत्मकथाओं की सूची | dalit aatmkathayen

दलित आत्मकथाएं
हिंदी की पहली दलित आत्मकथा मोहन दास नैमिशराय की अपने-अपने पिंजरे (1995) को माना जाता है। हिंदी में दलित आत्मकथा लेखन के रूप में कई महत्वपूर्ण रचनाएँ सामने आई, जो काफी चर्चित रहीं। उनकी सूची नीचे दी गई है-

dalit-aatmkathaon-ki-list

दलित आत्मकथाओं की सूची (dalit aatmkathaon ki list)



लेखक आत्मकथा वर्ष
मोहन दास नैमिशराय अपने-अपने पिंजरे (भाग-1) 1995
अपने-अपने पिंजरे (भाग-2) 2000
डी. आर. जाटव मेरा सफर मंजिल 2000
ओमप्रकाश वाल्‍मीकि जूठन (भाग-1) 1997
जूठन (भाग-2) 2013
कौशल्या बैसंती दोहरा अभिशाप 1999
माता प्रसाद झोपड़ी से राजभवन 2002
सूरजपाल सिंह चौहान तिरस्कृत (भाग-1) 2002
तिरस्कृत (भाग-2) 2006
रमाशंकर आर्य घुटन 2005
रूपनारायण सोनकर नागफनी 2007
श्‍योराज सिंह ‘बेचैन’ बेवक्त गुजर गया माली 2006
मेरा बचपन मेरे कंधों पर 2009
धर्मवीर मेरी पत्नी और भेड़िया 2009
खसम खुशी क्यों होय? 2013
तुलसी राम मुर्दहिया (भाग 1) 2010
मणिकर्णिका (भाग 2) 2013
सुशीला टाकभोरे शिकंजे का दर्द 2011


इन आत्मकथाओं के अतरिक्त दलित आत्मकथा में 2 मराठी आत्मकथाओं का काफी प्रभाव रहा, जिन्हें हिंदी में काफी पढ़ा-लिखा गया-
1. दया पवार- अछूत, 2. शरण कुमार लिम्बाले- अक्करमाशी

किताबें प्राप्त करने के लिए अमेजन पर सर्च करें

यह भी पढ़ें :

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

hindisarang.com पर आपका स्वागत है! जल्द से जल्द आपका जबाब देने की कोशिश रहेगी।

to Top