--> यूजीसी नेट पेपर- I का परीक्षा पैटर्न और पाठ्यक्रम: 2020 | UGC NET Syllabus & Exam Pattern 2020 - हिंदी सारंग
Home नेट/जेआरएफ / परीक्षा पैटर्न / पाठ्यक्रम / यूजीसी / net / syllabus / ugc

यूजीसी नेट पेपर- I का परीक्षा पैटर्न और पाठ्यक्रम: 2020 | UGC NET Syllabus & Exam Pattern 2020

UGC NET जून 2020 परीक्षा, वह परीक्षा जो भारतीय विश्वविद्यालयों और कॉलेजों दोनों में ‘असिस्टेंट प्रोफेसर’ के लिए या ‘जूनियर रिसर्च फेलोशिप (JRF) और असिस्टेंट प्रोफेसर’ के लिए भारतीय नागरिकों की योग्यता का परीक्षण करती है। UGC NET परीक्षा पंजीकरण 16 मार्च, 2020 से प्रारम्भ है और 16 अप्रैल, 2020 को समाप्त होगा। ugc net syllabus paper 1 (पेपर I) या जनरल एप्टीट्यूड सेक्शन एक अनिवार्य पेपर है जिसे प्रत्येक उम्मीदवार को करना होगा। पेपर 2 वह है जहां एक उम्मीदवार को उस विषय को तय करना होगा जिसे वह पोस्ट-ग्रेजुएशन में करना चाहता है या कर रहा है। दोनों प्रश्नपत्रों में केवल वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न (MCQ) शामिल होंगे। सभी प्रश्न अनिवार्य होते हैं।

ugc-net-exam-pattern-and-syllabus
यूजीसी नेट सिलेबस (UGC NET Syllabus 2020) को पेपर- I और पेपर- II में विभाजित किया गया है। यहां पेपर 1 (Paper-I)- शिक्षण और शोध अभिवृत्ति का परीक्षा पैटर्न दिया गया है:

UGC NET Exam Pattern Paper 1st 


अनुभाग (MCQ) प्रश्न अंक
भाग 1: शिक्षण अभिवृत्ति 5 10
भाग 2: शोध अभिवृत्ति 5 10
भाग 3: बोध 5 10
भाग 4: संप्रेषण 5 10
भाग 5: गणितीय तर्क और अभिवृत्ति 5 10
भाग 6: युक्तियुक्त तर्क 5 10
भाग 7: आंकड़ों की व्याख्या 5 10
भाग 8: सूचना और संचार प्रौद्योगिकी (आईसीटी) 5 10
भाग 9: लोग, विकास और पर्यावरण 5 10
भाग 10: उच्च शिक्षा प्रणाली 5 10

कुल 50 प्रश्न और 100 अंक होंगे।

यूजीसी नेट पेपर- I सिलेबस (UGC NET Paper-I Syllabus)

UGC NET प्रथम प्रश्न पत्र का मुख्य उद्देश्य परीक्षार्थी की शिक्षण और शोध क्षमता का मूल्यांकन करना है। अतः इस परीक्षा का उद्देश्य शिक्षण और शोध अभिवृत्ति का मूल्यांकन करना है। उनसे अपेक्षा है कि परीक्षार्थी से पास संज्ञानात्मक क्षमता हो और वे इसको प्रर्दार्शत कर सके। संज्ञानात्मक क्षमता में विस्तृत बोध, विश्लेषण, मूल्यांकन, तर्क संरचना की समझ, निगमानात्मक तथा आगमनात्मक तर्क शामिल हैं।

इस Syllabus से परिक्षार्थियों से यह भी अपेक्षा की जाती है कि उन्हें उच्च शिक्षा में शिक्षण और अधिगम का सामान्य ज्ञान हो। सूचना के स्रोतों की सामान्य जानकारी और ज्ञान हो। उन्हें इसके साथ-साथ उन्हें लोगों, पर्यावरण प्राकृतिक संसाधनों के बीच संव्यवहार और जीवन की गुणवत्ता पर उनके प्रभाव की जानकारी होनी चाहिए। विस्तृत सिलेबस (पाठ्यक्रम) विवरण इस प्रकार हैः-
आइए शिक्षण और शोध अभिवृत्ति, पेपर-I (Syllabus) के सभी 10 अनुभागों के सिलेबस के बारे में विस्तार से देखते हैं:

इकाई-1 शिक्षण अभिवृत्ति (Teaching Aptitude

  • शिक्षण: अवधारणाएं, उद्देश्य, शिक्षण का स्तर (स्मरण शक्ति, समझ और विचारात्मक), विशेषताएं और मूल अपेक्षाएं
  • शिक्षार्थी की विशेषताएं: किशोर और वयस्क शिक्षार्थी की अपेक्षाएं (शैक्षिक, सामाजिक / भावनात्मक और संज्ञानात्मक, व्यक्तिगत भिन्नताएँ
  • शिक्षण प्रभावक तत्त्व: शिक्षक, सहायक सामग्री, संस्थागत सुविधाएं, शैक्षिक वातावरण
  • उच्च अधिगम संस्थाओं में शिक्षण की पद्धति: अध्यापक केंद्रित बनाम शिक्षार्थी केंद्रित पद्धति, ऑफ लाइन बनाम ऑन-लाइन पद्धतियां (स्वयं, स्वयंप्रभा, मूक्‍स इत्यादि)।
  • शिक्षण सहायक प्रणाली: परंपरागत आधुनिक और आईसीटी आधारित।
  • मूल्यांकन प्रणालियां: मूल्यांकन के तत्त्व और प्रकार, उच्च शिक्षा में विकल्प आधारित क्रेडिट प्रणाली में मूल्यांकन, कंप्यूटर आधारित परीक्षा, मूल्यांकन पद्धतियों में नवाचार।

इकाई– 2 शोध अभिवृत्ति (Research Aptitude)

  • शोधः अर्थ, प्रकार और विशेषताएं, प्रत्यक्षवाद एवं उत्तर -- प्रत्यक्षवाद शोध के उपागम
  • शोध पद्धतियां: प्रयोगात्मक, विवरणात्मक, ऐतिहासिक, गुणात्मक एवं मात्रात्मक
  • शोध के चरण:
  • शोध प्रबन्ध एवं आलेख लेखन: फार्मेट और संदर्भ की शैली
  • शोध में आईसीटी का अनुप्रयोग
  • शोध नैतिकता

इकाई– 3 बोध (Reading Comprehension)

  • एक गद्यांश दिया जाएगा, उस गद्यांश से पूछे गए प्रश्नों का उत्तर देना होगा।

इकाई– 4 संप्रेषण (Communication)

  • संप्रेषण: संप्रेषण का अर्थ, प्रकार और अभिलक्षण
  • प्रभावी संप्रेषण: वाचिक एवं गैर-वाचिक, अन्तः सांस्कृतिक एवं सामूहिक संप्रेषण, कक्षा-संप्रेषण
  • प्रभावी संप्रेषण की बाधाएं
  • जन--मीडिया एवं समाज

इकाई– 5 गणितीय तर्क और अभिवृत्ति (Reasoning: Including Mathematical)

  • तर्क के प्रकार
  • संख्या श्रेणी, अक्षर श्रृंखला, कूट और संबंध
  • गणितीय अभिवृत्ति (अंश, समय और दूरी, अनुपात, समानुपात, प्रतिशतता, लाभ और हानि, व्याज और छूट, औसत आदि)

इकाई– 6 युक्तियुक्त तर्क (Logical Reasoning)

  • युक्ति के ढांचे का बोध: युक्ति के रूप, निरूपाधिक तर्कवाक्य का ढाँचा, अवस्था और आकृति, औपचारिक एवं अनौपचारिक युक्ति दोष, भाषा का प्रयोग, शब्दों का लक्ष्यार्थ और बस्त्वर्थ, विरोध का परंपरागत वर्ग
  • युक्ति के प्रकार; निगमनात्मक और आगमनात्मक युक्ति का मूल्यांकन और विशिष्टीकरण अनुरूपताएं
  • वेण का आरेख: तर्क की वैधता सुनिश्चित करने के लिए वेण आरेख का सरल और बहुप्रयोग
  • भारतीय तर्कशास्त्र: ज्ञान के साधन
  • प्रमाण: प्रत्यक्ष, अनुमान, उपमान, शब्द, अर्थापत्ति और अनुपलब्धि।
  • अनुमान की संरचना, प्रकार, व्याप्ति, हेत्वाभास।

इकाई– 7 आंकड़ों की व्याख्या (Data Interpretation)

  • आंकड़ों का स्रोत, प्राप्ति और वर्गीकरण
  • गुणात्मक एवं मात्रात्मक आंकड़ें
  • चित्रवत वर्णन (बार-चार्ट, हिस्टोग्राम, पाई-चार्ट, टेबल चार्ट और रेखा-चार्ट) और आंकड़ों का मान- चित्रण
  • आंकड़ों की व्याख्या
  • आंकड़े और सुशासन

इकाई– 8 सूचना और संचार प्रौद्योगिकी- आईसीटी (Information and Communication Technology- ICT)

  • आईसीटी (ICT): सामान्य संक्षिमियां और शब्दावली
  • इंटरनेट, इन्ट्रानेट, ई-मेल, श्रव्य-दृश्य कांफ्रेसिंग की मूलभूत बातें
  • उच्च शिक्षा में डिजिटल पहलें
  • आई सी टी और सुशासन

इकाई– 9 लोग, विकास और पर्यावरण (People and Environment)

  • विकास और पर्यावरण: मिलेनियम विकास और संपोषणीय विकास का लक्ष्य
  • मानव और पर्यावरण संव्यवहार: नृजातीय क्रियाकलाप और पर्यावरण पर उनके प्रभाव
  • पर्यावरणपरक मुद्दे: स्थानीय, क्षेत्रीय और वैश्विक, वायु प्रदूषण, जल प्रदूषण, मृदा प्रदूषण, ध्वनि प्रदूषण, अपशिष्ट (ठोस, तरल, बायो-मेडिकल, जोखिमपूर्ण, इलैक्ट्रानिक) जलवायु परिवर्तन और इसके सामाजिक आर्थिक तथा राजनीतिक आयाम
  • मानव स्वास्थ्य पर प्रदूषकों का प्रभाव
  • प्राकृतिक और उर्जा के स्रोत, सौर, पवन, मृदा, जल, भू-ताप, बायो-मास, नाभिकी और वन
  • प्राकृतिक जोखिम और आपदाएं: न्यूनीकरण की युक्तियां
  • पर्यावरण (संरक्षण) अधिनियम (4986), जलवायु परिवर्तन संबंधी राष्ट्रीय कार्य योजना, अन्तर्राष्ट्रीय समझौते / प्रयास- मोंट्रीयल प्रोटोकॉल, रियो सम्मलेन, जैव विविधता सम्मेलन, क्योटो प्रोटोकॉल, पेरिस समझौता, अंतरराष्ट्रीय सौर संधि

इकाई– 10 उच्च शिक्षा प्रणाली (Higher Education System: Governance, Polity and Administration)

  • उच्च अधिगम संस्थाएं और प्राचीन भारत में शिक्षा
  • स्वतंत्रता के बाद भारत में उच्च अधिगम और शोध का उद्धव
  • भारत में प्राच्य, पारंपरिक और गैर-पारंपरिक अधिगम कार्यक्रम
  • व्यावसायिक / तकनीकी और कौशल आधारित शिक्षा
  • मूल्य शिक्षा और पर्यावरणपरक शिक्षा
  • नीतियां, सुशासन, राजनीति और प्रशासन
टिप्पणी :
1. परीक्षा की अवधि 1 घंटा है।
2. सिलेबस के प्रत्येक यूनिट (मॉड्यूल) से 2-2 अंको वाले 5 प्रश्न तैयार किए जाएंगे
3. हर सही उत्तर पर 2 अंक मिलेगा।
4. परीक्षा में कोई नकारात्मक अंकन नहीं होगा।
5. यदि दृष्टिवान परीक्षार्थी के लिए ग्राफ / चित्र वाले प्रश्न तैयार किए जाते हैं तो दृष्टि बाधित परीक्षार्थियों के लिए उतने ही अंकों वाले प्रश्नों के अवतरण दिए जाएं।

UGC NET Paper-I 2020 syllabus Downlod pdf

आप नीचे दिए गये लिंक की सहायता से यूजीसी नेट का पेपर I के पाठक्रम का पीडीएफ फ़ाइल डाउलोड कर सकते हैं-

UGC NET Paper-I Syllabus Downlod

यह भी पढ़ें :

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

hindisarang.com पर आपका स्वागत है! जल्द से जल्द आपका जबाब देने की कोशिश रहेगी।

to Top