--> NTA UGC NET द्वारा आदिकालीन काव्य पंक्तियों से संबंधित पूछे गए प्रश्न | UGC NET Hindi Quiz- 42 - हिंदी सारंग
Home प्रश्नपत्र / यूजीसी नेट / hindi quiz / net / nta ugc / Question Paper

NTA UGC NET द्वारा आदिकालीन काव्य पंक्तियों से संबंधित पूछे गए प्रश्न | UGC NET Hindi Quiz- 42

यूजीसी नेट हिंदी old question paper

दोस्तों यहाँ पर यूजीसी नेट जेआरएफ हिंदी की परीक्षा के आदिकाल कविता के प्रश्नों को दिया जा रहा है। हिंदी क्विज का यह 42वां भाग है। यहाँ पर 2004 से लेकर 2019 तक के ugc net हिंदी के प्रश्नपत्रों में आदिकालीन हिंदी कविता के कवियों से संबंधित पूछे गए प्रश्नों को एक साथ दिया जा रहा है। ठीक उसी तरह जैसे कविता और कवि संबंधी प्रश्न दिए गए हैं।

ugc-net-hindi-old-question-paper-quiz-42
UGC NET Hindi Quiz- 42

इन प्रश्नों को हल करने के बाद आप पाएंगे कि nat ugc net hindi में आदिकाल कविता से कुछ खास कवियों एवं उनकी काव्य पंक्तियों से प्रश्न अधिक पूछा जाता है। इन प्रश्नों का दो-तीन बार यदि आप अभ्यास कर लेते हैं तो कविता के पंक्तियों पर आधारित प्रश्न गलत नहीं होंगे, ज्यादा संभावना है की इन्हीं प्रश्नों में से ही कोई दुबारा पूछ लिया जाए।

यूजीसी नेट द्वारा 2004 से अब तक पूछे गए प्रश्न

1. ‘जे हाल मिसकी मकुन तग़ाफुल दुराय नैना, बनाय बतियाँ।’ पंक्ति किसकी है? (जून, 2008, II)

(A) अमीर खुसरो 

(B) मुल्ला दाऊद

(C) चंद बरदाई

(D) रसलीन


2. “बारह बरस लौ कूकर जीवै, अरु तेरह लौ जिये सयार।

बरस अठारह क्षत्रिय जीवै, आगे जीवन कौ धिक्कार।

-ये पंक्तियाँ किस रासो काव्य की हैं? (दिसम्बर, 2007, II)

(A) खुमाण रासो

(B) पृथ्वीराज रासो

(C) हम्मीर रासो

(D) परमाल रासो 

परमाल रासो- जगनिक

 

3. पंडिअ सअल सत्थ बक्खाणइ। देहहि बुध्द बसंत ण जाणइ॥

-कथन है: (दिसम्बर, 2012, III)

(A) मीनपा

(B) शबरीपा

(C) गोरक्षपा

(D) शबरपा

उत्तर- (*) यह पंक्ति सरहपा का है।

 

4. ‘सजन सकारे जाँयगें नैन मरेंगें रोय’

-उक्ति है: (दिसम्बर, 2012, III)

(A) अमीर खुसरो 

(B) कबीर

(C) दादूदयाल

(D) रहीम


5. ‘अस्त्रीय जनम कांइ दीधउ महेस। अवर जनम थारइ घणा रे नरेश’

-पंक्ति का संबंध किस कृति से है? (सितंबर, 2013, II)

(A) पृथ्वीराज रासो

(B) विजयपाल रासो

(C) बीसलदेव रासो 

(D) आल्ह खंड


6. ‘आगम-वेअ-पुराणेहि, पाणिअ माण वहन्ति’

-पंक्ति किसको है? (जून, 2014, II)

(A) सरहपा

(B) कण्हपा 

(C) शबरपा

(D) डोंबिपा


7. ‘खड भाषा पुराणं च / कुरानं कथितं मया।’

-भाषा के संबंध में यह पंक्ति किस कवि की है? (जून, 2014, II)

(A) जगनिक

(B) नरपतिनाल्‍ह

(C) चंदबरदाई 

(D) अब्दुल रहमान


8. “बह्मणेहि म जाणंत हि भेऊ। एवइ पढ़ि़अउ ए च्चउ बेऊ।।

मट्टी पाणी कुस लइ पढ़ंत। घरहि बइसी अग्गि हुणंत।।”

-उपर्युक्त काव्य-पंक्तियाँ किस कवि की हैं? (दिसम्बर, 2014, III)

(A) गोरखनाथ

(B) सरहपा 

(C) रैदास

(D) कबीरदास


9. “जनम अवधि हम रूप निहारल / नयन न तिरपित भेल।”

-इन काव्य-पंक्तियों के रचयिता हैं? (दिसम्बर, 2014, III)

(A) विद्यापति 

(B) हितहरिवंश

(C) रसखान

(D) मीराबाई


10. “संदेसडउ सबित्थरउ पइ मइ कहणु न जाइ।

जे कालांगुलि मूंदडऊ सो बाँहडी समाइ।”

-इन काव्य पंक्तियों के रचनाकार हैं: (जून, 2015, II)

(A) विमलसूरि

(B) अद्दहमाण 

(C) हेमचंद्र

(D) दामोदर भट्ट


11. “संदेसडउ सवित्थरठ हउँ कहणहँ असमत्थ।

भण पिय इक्कति बलियडइ बेवि समाणा हत्थ।।

-उपर्युक्त दोहा किसका है? (दिसम्बर, 2015, II)

(A) नरपति नाल्ह

(B) हेमचंद्र

(C) अब्दुर्रहमान 

(D) शारंगधर


12. ‘पंडिय सअल सत्त बक्खाणइ। देहहि बुद्ध बसंत न जाणइ।’

-पंक्ति है: (जून, 2015, III)

(A) सरहपा 

(B) कण्हपा

(C) शबरीपा

(D) नागार्जुन


13. ‘बालचंद विज्जावइ भासा

दुहु नहि लग्गइ दुज्जन हासा।

-ये काव्य पंक्तियाँ किसकी हैं? (दिसम्बर, 2015, III)

(A) स्वयंभू

(B) नरपति नाल्‍ह

(C) विद्यापति 

(D) मधुकर कवि


14. आगम वे अ पुराणे, पंडित मान बहंति।

पक्‍क सिरिफल अलि अ जिम वाहेरित भ्रमयंति।।

-ये काव्य पंक्तियाँ किसकी हैं? (जून, 2016, II)

(A) सरहपा

(B) कण्हपा 

(C) डॉम्भिपा

(D) कुक्कुरिपा

 

15. ‘मेरा जोबना नवेल रा भयो है गुलाल

कैसे घर दीनी बकस मोरी माल।’

-उक्त काव्य-पंक्तियों रचयिता हैं: (जून, 2017, II)

(A) धर्मदास

(B) अमीर खुसरो 

(C) यारी साहब

(D) दरिया साहब


16. ‘सखि! पिया को जो मैं न देख,

तो कैसे का्टूँ अंधेरी रतियाँ।’

-उपर्युक्त काव्य पंक्तियाँ किस कवि की हैं? (जून, 2019, II)

(A) विद्यापति

(B) नरपति नाल्‍ह

(C) अमीर खुसरो 

(D) भट्ट केदार


17. ‘देसिल बयना सब जब मिट्ठा- किसका कथन है? (दिसम्बर, 2008, II)

(A) तुलसीदास

(B) सूरदास

(C) कबीरदास

(D) विद्यापति 

Quiz 1234567891011121314151617181920212223242526, 272829303132333435363738394041, 42, 434445464748495051525354555657585960616263646566676869707172737475767778798081

यह भी पढ़ें :

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

hindisarang.com पर आपका स्वागत है! जल्द से जल्द आपका जबाब देने की कोशिश रहेगी।

to Top